पीली ककड़ी, सहजन और टमाटर की करी/मिश्रित सब्जी करी गर्म चावल के साथ/3 सब्जियों के साथ करी peelee kakadee, sahajan aur tamaatar kee karee/mishrit sabjee karee garm chaaval ke saath/3 sabjiyon ke saath karee

अवयव |  avayav:
  • सहजन - 2 | sahajan - 2
  • टमाटर - 3 | tamaatar - 3
  • पीला खीरा - 2 | peela kheera - 2
  • नमक स्वादानुसार या 1 चम्मच | namak svaadaanusaar ya 1 chammach
  • मिर्च पाउडर - 2 चम्मच | mirch paudar - 2 chammach
  • हल्दी - 1/2 चम्मच | haldee - 1/2 chammach
  • सरसों के बीज - 1 चम्मच | sarason ke beej - 1 chammach
  • जीरा - 1 चम्मच | jeera - 1 chammach
  • चना दाल - 1 चम्मच | chana daal - 1 chammach
  • तेल - 2 चम्मच |  tel - 2 chammach
  • करी पत्ते थोड़े से | karee patte thode se
  • धनिया पत्ती थोड़ी सी | dhaniya pattee thodee see

  
सबसे पहले पीला खीरा लें और ऊपर से छिलका उतारकर बीच से काट लें और इसका स्वाद लें। अगर यह मीठा है तो इसे करी में इस्तेमाल किया जा सकता है. अगर यह थोड़ा कड़वा हो तो इसके अंदर के बीज निकाल कर इस्तेमाल किया जा सकता है. अगर सब्जी ज्यादा कड़वी है तो इसे करी में इस्तेमाल न करें. - खीरा, सहजन और टमाटर को भी छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लीजिए. - अब एक प्याज काट कर अलग रख लें. - कुकर को गैस पर रखें और धीमी आंच पर गर्म करें. - अब तेल गर्म करें और इसमें राई, जीरा, चना दाल डालकर अच्छे से भून लें. - अब इसमें प्याज के टुकड़े डालकर अच्छे से भून लें. - फिर इसमें करी पत्ता और हल्दी डालकर 2 मिनट तक भूनें. - अब इसमें खीरे के टुकड़े, सहजन के टुकड़े और अलग रखे टमाटर के टुकड़े डालकर अच्छी तरह मिला लें. 2 मिनट तक पकाने के बाद इसमें नमक और मिर्च पाउडर डालकर अच्छी तरह मिला लें और कुकर को तेज आंच पर रख दें. 3 सीटी आने पर गैस बंद कर दीजिए और कुकर निकाल कर अलग रख दीजिए. - ठंडा होने के बाद स्टोव चालू करें और कुकर को स्टोव पर रखें और पानी कम होने और करी के गाढ़ा होने तक पकाएं. - अब हरा धनिया डालकर मिलाएं और गरमा गरम चावल के साथ परोसें. कितनी स्वादिष्ट और स्वास्थ्यवर्धक करी है. इसे इस्तेमाल करने में कम समय लगता है. और बिना अधिक प्रयास के इसे करना आसान है।
sabase pahale peela kheera len aur oopar se chhilaka utaarakar beech se kaat len aur isaka svaad len. agar yah meetha hai to ise karee mein istemaal kiya ja sakata hai. agar yah thoda kadava ho to isake andar ke beej nikaal kar istemaal kiya ja sakata hai. agar sabjee jyaada kadavee hai to ise karee mein istemaal na karen. - kheera, sahajan aur tamaatar ko bhee chhote-chhote tukadon mein kaat leejie. - ab ek pyaaj kaat kar alag rakh len. - kukar ko gais par rakhen aur dheemee aanch par garm karen. - ab tel garm karen aur isamen raee, jeera, chana daal daalakar achchhe se bhoon len. - ab isamen pyaaj ke tukade daalakar achchhe se bhoon len. - phir isamen karee patta aur haldee daalakar 2 minat tak bhoonen. - ab isamen kheere ke tukade, sahajan ke tukade aur alag rakhe tamaatar ke tukade daalakar achchhee tarah mila len. 2 minat tak pakaane ke baad isamen namak aur mirch paudar daalakar achchhee tarah mila len aur kukar ko tej aanch par rakh den. 3 seetee aane par gais band kar deejie aur kukar nikaal kar alag rakh deejie. - thanda hone ke baad stov chaaloo karen aur kukar ko stov par rakhen aur paanee kam hone aur karee ke gaadha hone tak pakaen. - ab hara dhaniya daalakar milaen aur garama garam chaaval ke saath parosen. kitanee svaadisht aur svaasthyavardhak karee hai. ise istemaal karane mein kam samay lagata hai. aur bina adhik prayaas ke ise karana aasaan hai.

Comments