प्रोटीन ब्राउनी कैसे बनाएं | स्वास्थ्यवर्धक और स्वादिष्ट लड्डू कैल्शियम, हीमोग्लोबिन, प्रोटीन के लिए प्रतिदिन एक ब्राउनी खाएं प्रोटीन लड्डु कैसे बनाये | कैल्शियम, हीमोग्लोबिन, प्रोटीन बढ़ाने के लिए रोज एक लड्डू खाएं proteen braunee kaise banaen | svaasthyavardhak aur svaadisht laddoo kailshiyam, heemoglobin, proteen ke lie pratidin ek braunee khaen proteen laddu kaise banaaye | kailshiyam, heemoglobin, proteen badhaane ke lie roj ek laddoo khaen

आवश्यक सामग्री | aavashyak saamagree:
  • तिल के बीज - 500 ग्राम | til ke beej - 500 graam
  • मूंगफली - 500 ग्राम | moongaphalee - 500 graam
  • अलसी के बीज/फलक के बीज - 500 ग्राम | alasee ke beej/phalak ke beej - 500 graam
  • गुड़ - 750 ग्राम | gud - 750 graam
  • चारदम्स - 10 | chaaradams - 10
  
- सबसे पहले एक कढ़ाई रखें और उसे जलाकर मध्यम आंच पर रखें. - अब पैन में तिल डालें और अच्छी खुशबू आने तक भून लें. - जब तिल का रंग थोड़ा बदल जाए तो इन्हें निकाल लें और एक प्लेट में ठंडा होने दें. - अब एक कढ़ाई में मूंगफली के दाने डालें और भून लें. अच्छी तरह भूनने के बाद मूंगफली के दानों को निकाल कर ठंडा होने के लिये अलग रख दीजिये. - अब पैन में अलसी के बीज, रतालू/इलायची डालें और भूनें. अच्छी तरह भूनने के बाद इन्हें भी ठंडा होने दीजिए.
- sabase pahale ek kadhaee rakhen aur use jalaakar madhyam aanch par rakhen. - ab pain mein til daalen aur achchhee khushaboo aane tak bhoon len. - jab til ka rang thoda badal jae to inhen nikaal len aur ek plet mein thanda hone den. - ab ek kadhaee mein moongaphalee ke daane daalen aur bhoon len. achchhee tarah bhoonane ke baad moongaphalee ke daanon ko nikaal kar thanda hone ke liye alag rakh deejiye. - ab pain mein alasee ke beej, rataaloo/ilaayachee daalen aur bhoonen. achchhee tarah bhoonane ke baad inhen bhee thanda hone deejie.
  
- अब गुड़ लें और उसे कद्दूकस कर लें. या फिर इसके छोटे-छोटे टुकड़े करके पीसकर मुलायम पेस्ट बना लें. गलती से भी पानी न डालें. (गुड़ की जगह गुड़ पाउडर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है.) अब अलसी, तिल और मूंगफली को मिक्सर में पीस लें. अब उस पाउडर में गुड़ का पेस्ट/गुड़ पाउडर डालकर अच्छी तरह मिला लें. - अब इसे छोटी-छोटी बॉल्स में रोल कर लें. मान लीजिए कि स्वादिष्ट और सेहतमंद लड्डू बनकर तैयार हो गए हैं. अगर बच्चों में कैल्शियम की मात्रा कम हो तो तिल का सेवन करना चाहिए। ऐसा करें और दिन में एक ब्राउनी खाएं। कैल्शियम जरूर बढ़ेगा. साथ ही अलसी के बीज दिल के लिए भी अच्छे होते हैं। यह कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है। मूंगफली भी अच्छी वसा होती है। अवश्य देखें और टिप्पणी करें
- ab gud len aur use kaddookas kar len. ya phir isake chhote-chhote tukade karake peesakar mulaayam pest bana len. galatee se bhee paanee na daalen. (gud kee jagah gud paudar ka bhee istemaal kiya ja sakata hai.) ab alasee, til aur moongaphalee ko miksar mein pees len. ab us paudar mein gud ka pest/gud paudar daalakar achchhee tarah mila len. - ab ise chhotee-chhotee bols mein rol kar len. maan leejie ki svaadisht aur sehatamand laddoo banakar taiyaar ho gae hain. agar bachchon mein kailshiyam kee maatra kam ho to til ka sevan karana chaahie. aisa karen aur din mein ek braunee khaen. kailshiyam jaroor badhega. saath hee alasee ke beej dil ke lie bhee achchhe hote hain. yah kolestrol ko bhee kam karata hai. moongaphalee bhee achchhee vasa hotee hai. avashy dekhen aur tippanee karen

Comments