रागी डोसा | सरल और आसान डोसा रेसिपी | रागी डोसा रेसिपी | सरल और आसान रागी डोसा रेसिपी raagee dosa | saral aur aasaan dosa resipee | raagee dosa resipee | saral aur aasaan raagee dosa resipee

आवश्यक सामग्री | aavashyak saamagree:
  • फिंगर बाजरा / रागी आटा / रागी - 1 कप | phingar baajara / raagee aata / raagee - 1 kap
  • उड़द दाल - 1 कप | udad daal - 1 kap
  • चावल - 1 कप | chaaval - 1 kap
  • नमक स्वादानुसार | namak svaadaanusaar
  • जीरा - 1 चम्मच | jeera - 1 chammach
  • आवश्यकतानुसार पानी | aavashyakataanusaar paanee
  • तेल - 2-3 चम्मच | tel - 2-3 chammach
फिंगर मिलेट (रागी आटा) में उच्च प्रोटीन, उच्च फाइबर होता है और यह प्राकृतिक वजन घटाने वाले एजेंट के रूप में काम करता है। यह आपकी त्वचा को बूढ़ा होने से बचाता है और बालों के लिए भी अच्छा है। फिंगर मिलेट (रागी) में भरपूर मात्रा में कैल्शियम होता है, यह मधुमेह से बचाता है और पाचन के लिए भी अच्छा होता है। इस डोसे में उड़द की दाल मिलाई गई है, जो प्रोटीन का अच्छा स्रोत है। फिंगर बाजरा प्राकृतिक रूप से आयरन से भरपूर होता है और विटामिन बी1, बी3, बी6, पोटेशियम और एंटीऑक्सीडेंट से भी भरपूर होता है। यह पौष्टिक सुपर फूड हृदय, त्वचा, हड्डी और यकृत के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है। फिंगर मिलेट (रागी) एक संपूर्ण अनाज है जो ग्लूटेन-मुक्त है और भारत में प्रमुख है।
phingar milet (raagee aata) mein uchch proteen, uchch phaibar hota hai aur yah praakrtik vajan ghataane vaale ejent ke roop mein kaam karata hai. yah aapakee tvacha ko boodha hone se bachaata hai aur baalon ke lie bhee achchha hai. phingar milet (raagee) mein bharapoor maatra mein kailshiyam hota hai, yah madhumeh se bachaata hai aur paachan ke lie bhee achchha hota hai. is dose mein udad kee daal milaee gaee hai, jo proteen ka achchha srot hai. phingar baajara praakrtik roop se aayaran se bharapoor hota hai aur vitaamin bee1, bee3, bee6, poteshiyam aur enteeokseedent se bhee bharapoor hota hai. yah paushtik supar phood hrday, tvacha, haddee aur yakrt ke svaasthy ko badhaava deta hai. phingar milet (raagee) ek sampoorn anaaj hai jo glooten-mukt hai aur bhaarat mein pramukh hai.
 
सबसे पहले फिंगर मिलेट (रागी) लें और इसे एक बाउल में अच्छे से धोकर अलग रख लें। - अब उड़द दाल और चावल लें और उन्हें अच्छे से धो लें और रागी के साथ मिलाकर 6-8 घंटे के लिए पानी में भिगो दें. फिर पानी को छान लें और इसे दोबारा पानी से धोकर अलग रख दें।
sabase pahale phingar milet (raagee) len aur ise ek baul mein achchhe se dhokar alag rakh len. - ab udad daal aur chaaval len aur unhen achchhe se dho len aur raagee ke saath milaakar 6-8 ghante ke lie paanee mein bhigo den. phir paanee ko chhaan len aur ise dobaara paanee se dhokar alag rakh den.
 
- अब एक जार लें और इसमें भीगे हुए फिंगर मिलेट (रागी), चावल, उड़द दाल, स्वादानुसार नमक, थोड़ा सा जीरा डालें और बारीक पीस लें. आटे को चिकना करने के लिये पर्याप्त पानी डालकर मिला दीजिये. - अब स्टोव जलाएं और डोसा पैन गर्म करें. - गर्म होने के बाद इसमें थोड़ा सा तेल डालें और फिर रागी डोसा को आटे से लपेट लें. - थोड़ा सा तलने के बाद डोसे के चारों ओर तेल लगा दीजिए और पके हुए डोसे को पलट कर दूसरी तरफ भी तल लीजिए. उससे रागी डोसा आसान होकर एक स्वास्थ्यवर्धक डोसा बन गया है. ऐसा करो और मुझे बताओ कि यह कैसा है। अगर आप नारियल की चटनी, अदरक की चटनी या पल्ली चटनी (मूंगफली की चटनी) मिलाते हैं तो रागी डोसा बहुत अच्छा बनता है।
- ab ek jaar len aur isamen bheege hue phingar milet (raagee), chaaval, udad daal, svaadaanusaar namak, thoda sa jeera daalen aur baareek pees len. aate ko chikana karane ke liye paryaapt paanee daalakar mila deejiye. - ab stov jalaen aur dosa pain garm karen. - garm hone ke baad isamen thoda sa tel daalen aur phir raagee dosa ko aate se lapet len. - thoda sa talane ke baad dose ke chaaron or tel laga deejie aur pake hue dose ko palat kar doosaree taraph bhee tal leejie. usase raagee dosa aasaan hokar ek svaasthyavardhak dosa ban gaya hai. aisa karo aur mujhe batao ki yah kaisa hai. agar aap naariyal kee chatanee, adarak kee chatanee ya pallee chatanee (moongaphalee kee chatanee) milaate hain to raagee dosa bahut achchha banata hai.

Comments